उत्तर प्रदेश का बजट पेश।किसानों व शिक्षकों को अखिलेश ने दिया तोहफा

akhilesh bdhaiमुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने 12 फरवरी को 12.20 मिनट पर बतौर वित्त मंत्री पांचवां बजट पेश क‌िया। सीएम ने अब तक का सबसे बड़ा बजट पेश क‌िया। बजट में यूपी के ल‌िए 3.46 लाख करोड़ रुपये हैं। ये बजट प‌िछले बजट से 14.6 प्रत‌िशत ज्यादा है। बजट पेश करने के दौरान सीएम अ‌‌ख‌िलेश यादव ने कहा, हमने तमाम अड़चनों के बाद भी अपने ज्यादातर वादों को पूरा क‌िया। विधानसभा चुनाव से पहले अपने इस आखिरी बजट के जरिये मुख्यमंत्री ने सभी वर्गों को लुभाने की कोशिश की।

यहां द

– समाजवादी पेंशन का दायरा बढ़ा, 55 लाख लोगों को म‌िलेगी समाजवादी पेंशन।
– आबकारी कर और वैट में 10-10 फीसदी की वृद्घि।
– राजस्व प्राप्‍ति 3.40 लाख करोड़ का अनुमान।
– वृद्धावस्था पेंशन 39 लाख लोगों तक पहुंचेगी।
– समाजवादी पूर्वांचल एक्प्रेस को बजट म‌िला।
– गन्ना मूल्य भुगतान के ल‌िए 1336 करोड़।
– यूपी में राजकीय मेड‌िकल कॉलेजों की संख्या 16 हुई।
– यूपी में एमबीबीएस की सीट बढ़कर 1700 हुईं।
– 10 लाख से ज्यादा ‌क‌िसानों को डीबीटी का लाभ ‌म‌िलेगा।
– सूखाग्रस्त ज‌िलों के ‌ल‌िए 2057 करोड़ रुपये।
– 1.18 करोड़ लोगों तक पहुंचेगा सभी योजनाओं का लाभ।
– 1200 कौशल व‌िकास प्रश‌िक्षक केंद्र खुलेंगे।
– सूखाग्रस्त ज‌िलों में चारा-दाना कार्यक्रम।
– क‌िसानों को 3 फीसदी पर ऋण देगी सरकार।
– इंदिरा आवास के लिए 3162 करोड़ रुपए।
– मलिहाबाद आम मंडी 79 करोड़ रुपए मिले।
– लखनऊ मेट्रो के लिए 814 करोड़ रुपए मिले।
– शहरों को मिलेगी 22 घंटे बिजली।
– कन्नौज में 102 करोड़ रुपए से आलू मंडी।

‌‌इस दौरान सीएम ने बताया क‌ि उन्होंने अशासकीय श‌िक्षकों के ल‌िए मानदेय की व्यवस्था की है। प्रदेश की जनता की खुशहाली के ल‌िए काम क‌िया है। सीएम ने बताया क‌ि कृष‌‌ि, श‌िक्षा और स्वास्थ्य पर पर ज्यादा जोर द‌िया गया है।

मुख्यमंत्री ने इन चार वर्षों के दौरान बजट में कई नए प्रयोग भी किए हैं। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने एक जून 2012 को अपना पहला और वित्त वर्ष 2012-13 का आम बजट पेश किया था, तब इसका आकार 1,94,327.28 करोड़ था। 2015-16 में यह 3,02,687.32 करोड़ था।

इस तरह बढ़ा बजट (करोड़ रुपये)
2012-13–1,94,327
2013-14–2,15,919
2014-15–2,70,573
2015-16–3,02,687

@Amar Ujala

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *