सपा नेता की गिरफ्तारी होते ही डाॅक्टरों की हड़ताल रद्द

khash khaberमेरठ, 05 अप्रैल (एजेंसी.)। डाॅक्टर के साथ गालीगलौच और जान से मारने की धमकी के आरोपी सपा नेता पंकज प्रधान को पुलिस ने शनिवार की देर रात गिरफ्तार कर लिया। इसके बाद रविवार को डाॅक्टरों ने अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाने का अपना फैसला वापस ले लिया। इसके लिए डाॅक्टरों ने एसएसपी की भूमिका की सराहना की।
शहर के जाने-माने चिकित्सक विश्वजीत बैंबी के साथ चैधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय छात्र संघ के पूर्व महामंत्री पंकज प्रधान ने गालीगलौच करते हुए जान से मारने की धमकी दी थी। इसे लेकर डाॅक्टरों में आक्रोश पनप गया था और उन्होेंने पंकज की गिरफ्तारी नहीं होने पर अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाने का ऐलान किया था। इस मामले में पंकज के साथ ही विजय धामा के खिलाफ भी थाने में मुकदमा दर्ज कराया गया।
पंकज ने भाग्यश्री अस्पताल में भर्ती एक मरीज का बिल कम करने का डाॅक्टर पर दबाव बनाया था और इसके बाद मरीज को जबरन अपने साथ ले गया था। डाॅक्टरों की चेतावनी के बाद से ही पुलिस प्रशासन में हड़कंप मचा हुआ था। इसे देखते हुए एसएसपी एसएस बघेल ने आरोपी पंकज प्रधान को गिरफ्तार करने के निर्देश पुलिस को दिए। इसके बाद आरोपी पंकज को शनिवार की देर रात मेडिकल पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। जबकि दूसरा आरोपी विजय धामा अभी फरार चल रहा है। पंकज की गिरफ्तारी होने पर डाॅक्टरों ने अपनी प्रस्तावित अनिश्चितकालीन हड़ताल रद कर दी।
रविवार सुबह आईएमए हाॅल से निकाली गई बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ रैली के दौरान डाॅक्टर इकट्ठा हुए। इस मौके पर सभी डाॅक्टरों ने आरोपी की गिरफ्तारी पर खुशी जाहिर की और इसके लिए एसएसपी को धन्यवाद दिया। इसके बाद हुई आईएमए की बैठक में अगली आम सभा में त्वरित कार्रवाई के लिए एसएसपी को सम्मानित करने का निर्णय लिया गया। बैठक में डाॅ. जेवी चिकारा, दिनेश अग्रवाल, डाॅ. नवनीत अग्रवाल, डाॅ. वीपी कटारिया, डाॅ. विशाल सक्सेना, डाॅ. विश्वजीत बैंबी, डाॅ. तनुराज सिरोही, डाॅ. ऋषि भाटिया आदि मौजूद थे।

 

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *